SONY DSC
चंडीगढ़: 06 सितंबर, 2017 :
62 वेस्ट स्टूडियो द्वारा परेड्डी रियाड़ के गीत सुनरूफ गीत का पोस्टर व टीज़र रिलीज़ किया गया। चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित एक प्रेस वार्ता के दौरान 62 वेस्ट स्टूडियो को भी आधिकारिक तौर पर लांच किया गया। इस स्टूडियो को रणबीर बाठ, रंजोध बाठ, अमलोक भुल्लर, जोत भुल्लर द्वारा मिलकर शुरू किया गया है। इस मौके पर बॉलीवुड प्लेबैक सिंगर प्रदीप सरण चीफ गेस्ट के तौर पर मौजूद रहे जिनके साथ मिलकर पूरी टीम ने केक काटकर अपने स्टूडियो को लांच किया।
रणबीर बाठ ने बताया कि यह एक म्यूजिक प्रोडक्शन हाउस है जो कि हमारा सपना है। आने वाले समय में हम गाने, फिल्में, शार्ट स्टोरियां, वेब सीरीज और कई अन्य चीज़ें लांच करेंगे। रणबीर बाठ इंग्लैंड में करीब 4 साल रहे और अब भारत वापस आ चुके हैं। उनका हमेशा से अपना म्यूजिक प्रोडक्शन हाउस बनाने का सपना रहा है। इसके लिए उन्होंने इस क्षेत्र में 2 साल रिसर्च किया और फिर यहां कदम रखा। अपना सपना पूरा करने के लिए उन्होंने टीम के अन्य सदस्यों से संपर्क किया। रंजोध बाठ और अमलोक भुल्लर यूएस में रहते हैं इसलिए अमलोक ने अपनी पत्नी जोत भुल्लर को भारत भेजा ताकि वो इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में रणबीर की मदद कर सकें।
जोत भुल्लर ने बताया कि 62 वेस्ट स्टूडियो का मकसद है छुपे हुए टैलेंट को ढूंढ निकालना। हम सब जानते हैं कि ऐसे बहुत से लड़के-लड़कियां हैं जिनके पास हुनर है लेकिन उनको सामने आने का मौका नहीं मिलता। 62 वेस्ट स्टूडियो ऐसे छुपे हुए कलाकारों को सामने आने का मौका देगा जहां वे अपना हुनर प्रदर्शित कर सकें। 62 वेस्ट स्टूडियो हमेशा पंजाबी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए काम करेगा। हम हमेशा नई और अलग चीज़ें ले कर आएंगे।
रणबीर ने कहा कि आज हम प्रेस क्लब में अपना प्रोडक्शन हाउस 62 वेस्ट स्टूडियो लांच कर रहे हैं जिसे हम जल्द ही मोहाली में भी खोलने जा रहे हैं। इस समय हमारा पहला ऑफिस तरनतारन में है। साथ ही हम अपने पहले गीत “सुनरूफ” का पोस्टर और टीज़र रिलीज़ कर रहे हैं। इस गीत को परेड्डी रियाड़ ने गाया है।
म्यूजिक- स्नैप्पी
लिरिक्स- राव हांजरा
डीओपी- अंकित चोपड़ा
डायरेक्टर- एच 7 संधू
एसोसिएट डायरेक्टर- डी लकी
असिस्टेंट डायरेक्टर- गैरी सिधू
एडिटर- मनिंदर फार्मर
इस अवसर पर परेड्डी ने बताया कि यह मेरा पहला गीत है और मेरा व मेरी माँ का सपना आज पूरा हो रहा है। मेरे पिता नहीं चाहते थे कि मैं सिंगर बनूं लेकिन मेरी माँ ने मुझे हमेशा सपोर्ट किया है जिसके कारण मैं अपना पैशन पूरा कर पाया हूँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here