मठ मंदिर:-

चंडीगढ़:(Pooja Goyal)

आज श्री चैतन्य गौड़ीय मठ चंडीगढ़ में 49 में धर्म सम्मेलन के उपलक्ष में तृतीय अधिवेशन में आज का विषय अशांत विश्व में शांति का अभाव इस विषय पर चर्चा प्रारम्भ हुई।

चंडीगढ़ मठ के प्रवक्ता जय प्रकाश गुप्ता ने बताया वृंदावन से आए हुए स्वामी भिक्षुक महाराज जी ने अपने प्रवचन में भक्तों को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व को शांति का सिर्फ एक ही उपाय है वह है श्री हरि नाम के शरणागत हो जाना हरि नाम का जाप करना। सांसारिक मोह माया से ग्रस्त रहकर शांति प्राप्त होना असंभव है। नवरात्र पर्व का आज सप्तमी दिवस था। आज ही के दिन श्री राधा माधव भगवान एवं श्री चैतन्य महाप्रभु जी का चंडीगढ़ मठ में स्थापना अवतरित दिवस मनाया गया। श्री श्री विग्रह को पंचामृत से अभिषेक किया गया सैकड़ों भक्तों ने इस अवसर पर स्वयं को प्रस्तुत कर जीवन की अपनी साक्षी प्रस्तुत की। रात्रि कालीन कार्यक्रम में आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल जी ने अपने संबोधन में कहा कि विश्व को शांति के मार्ग पर ले जाने के लिए अध्यात्म मार्ग ही सर्वश्रेष्ठ है। इसके अतिरिक्त हिंसा से कभी भी शांति प्राप्त नहीं हो सकती।

सभा की अध्यक्षता चंडीगढ़ के सीनियर डिप्टी मेयर सरदार हरदीप सिंह जी द्वारा की गई ।उन्होंने कहा कि नानक देव जी ने हरि नाम से नाम जाप से शांति का वातावरण को शांत में विश्व शांति करने का आह्वान किया था ।आज श्री चैतन्य गौड़ीय मठ के श्री राधा माधव जी एवं चैतन्य महाप्रभु जी के प्रगट दिवस की खुशी में भक्तों ने जोरदार नृत्य गान किया ।कथा कीर्तन के पश्चात सैकड़ों भक्तों ने स्वादिष्ट प्रसाद ग्रहण कर आनंद विभोर हुए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here