चंडीगढ़

पंजाब में नशा खत्म क्यों नहीं हो रहा l क्या कारण है जिससे आज का युवा नशे से दूर नहीं हो पा रहा है l पंजाबी फिल्म “ बच्ची ब्लैकिया” जो एक सच्ची कहानी पर आधारित शार्ट फ़िल्म है । इस फ़िल्म में दिखया गया है कि किस प्रकार एक बच्चे को नशे की लत में लगया जाता है और जवानी तक वह अपने नशे के कारण खुद को व अपने परिवार को विनाश की ओर ले जाता है l इस फिल्म में गुरुजीवन सिंह, उर्फ़ “बच्ची बलेकिया” जो पंजाब का एक निवासी है यह फिल्म उनकी जीवनी पर बनाई गई है । इस फ़िल्म में “ बच्ची बलेकिया” का मुख्य किरदार बलजीत सिंह ने निभाया है । इस फ़िल्म को यू.एस.ए.पंजाबी प्रोडक्शन और सिटी इन्टरटेंटमेंट द्वारा बनाई गया है । फ़िल्म के निर्देश एवं लेखक हरसिमरन सिंह, सह निर्द्वशक अंजलि शर्मा व कलाकार निर्देशक नीतू शर्मा हैं । फ़िल्म में संगीत दिया है जसकीरत सिंह ने । फ़िल्म निर्देशक ने बताया की वे इस फ़िल्म का दूसरा भाग जल्द ही दर्शकों को देखने को मिलेगा । जिसमे नाश छोड़ने के बाद भी समाज उसे जीने नही देता । नफरत की नज़रों से देखता है । जिसके चलते वह ओर ज़्यादा से ज़्यादा दिमागी तौर पर कमज़ोर होता चला जाता है । फ़िल्म के बारे ओर ज़्यादा जानकारी देते हुए कलाकार गौरव शर्मा ने बताया के यह फ़िल्म चंडीगढ़, मोहाली, खरर में शूट की गई है । इस में कुल 30 कलाकार है । इस फ़िल्म की कुल अवधि 1 घंटे की है। यह फ़िल्म 30 जनवरी अर्थात आज के रोज़ रिलीज़ की जाएगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here