दर्शक जहां भारतीय टेलीविजन पर अभूतपूर्व लीडर नागिन 2 को विदाई देने के लिए तैयार हैं। वहीं, कलर्स जादू और रहस्य की पृष्ठभूमि में फिल्माई गई प्रेम एवं बदले की उन्मुक्त कहानी चंद्रकांता पेश करने के लिए पूरी तरह तैयार है। राजकुमारी चंद्रकांता (मधुरिमा तुली) और राजकुमार वीर (विशाल आदित्य सिंह) के बीच प्रतिकूल मगर प्रज्वलित संबंध पर प्रकाश डालते हुए यह धारावाहिक मिथकों, लीजेंड्स और जादू से भरपूर है। धारावाहिक के कनसेप्ट पर प्रकाश डालते हुए, इसके प्रमुख किरदारों मधुरिमा तुली, और विशाल आदित्य सिंह ने आज चंडीगढ़ का दौरा किया। एकता कपूर की बालाजी टेलीफिल्म्स की पेशकश चंद्रकांता 24 जून, 2017 से आरंभ हो रहा है जो दर्शकों को रहस्य एवं रोमांच के दीदार कराएगा। यह प्रत्येक शनिवार और रविवार रात 8ः00 बजे कलर्स पर प्रसारित होगा।

धारावाहिक की शुरुआत के बारे में वायाकॉम 18 के सीओओ राज नायक ने कहा, ‘‘एक के बाद एक नागिन के 2 सीजन दर्शकों के लिए बहुत आनंददायक रहे और उनकी पसंद बने रहे। यह हमारे कंटेंट पर उनका भरोसा ही है जिसके कारण हम इस तरह के क्षेत्र में और आगे बढ़ रहे हैं। हाल ही में न सिर्फ टेलीविजन बल्कि फिल्मों में भी कास्ट्यूम ड्रामों और फैंटेसी धारावाहिकों की सफलता इस बात का प्रमाण है कि हमारे दर्शक तैयार हो गए हैं और अलग तरह के कार्यक्रम देखने के इच्छुक हैं। हम ऐसी अनूठी कहानी दिखाने के लिए एक बार फिर एकता कपूर के क्रीएटिव इंटेलेक्ट के साथ सहयोग से रोमांचित हैं जो हालांकि पहले भी दिखाई गई है लेकिन उसमें दर्शकों के अनुभव को विस्तार देने के लिए सृजनात्मकता की बहुत गुंजाइश है।’’

नए फिक्शन शो के बारे में कलर्स की प्रोग्रामिंग हेड मनीषा शर्मा ने कहा, ‘‘एक चैनल के रूप में, हम दर्शकों के लिए विविध प्रकार का मनोरंजन प्रस्तुत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, चाहे नागिन हो या अब चंद्रकांता या आगामी महाकाली जो दैनिक फिक्शन ड्रामों की तुलना में पैनी मगर रोमांचक कहानी हैं। नागिन की सफलता हमें बताती है कि दर्शकों को अब भी इस तरह की कहानियों की बहुत भूख है तथा चंद्रकांता के साथ धारावाहिक के प्रत्येक पहलू को बुलंद कर रहे हैं तथा इसे पहले से कहीं अधिक शानदार और रोमांचक बना रहे हैं। वीकडेज हों या वीकएंड, अलग तरह का कंटेंट पेश करने के चैनल के सच्चे मूल्यों के अनुरूप हमें आशा है कि दर्शक नागिन की तरह ही इस रोमांचक कहानी का भी आनंद लेंगे।’’

32,000 वर्ग फुट में फैला चंद्रकांता का सेट राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता आर्ट डायरेक्टर चंद्रवदन मोरे ने डिजाइन किया है जिसमें जादुई दुनिया की राजसी ठाटबाट और समृद्धि झलकती है। तीन अलग-अलग जोन में – विजयगढ़ में महारानी इरावती का दरबार, सूर्यगढ़ में राजकुमार शिवदत्त का दरबार और मछुआरों की बस्ती में चंद्रकांता के पालक अभिभावक के लिए सेट इस तरह बनाए गए हैं जो चंद्रकांता और वीरेंद्र सिंह की प्रेम कहानी के लिए आदर्श जगह हैं। समीरा अहमद की डिजाइन की गई खूबसूरत पोशाक वाइब्रेंट कलर की छटा प्रस्तुत करती हैं जो मोनोलिथिक और प्रोडिगस पृष्ठभूमि की जटिलता को बढ़ाती हैं।

इस अवसर पर बालाजी टेलीफिल्म्स की प्रोड्यूसर एकता कपूर ने कहा, ‘‘चंद्रकांता हमारे लिए बहुत खास धारावाहिक है और यह बहुत भव्य है। सच कहें तो इस धारावाहिक को रखने की क्षमता ने हमें रोमांच से भर दिया था। इसका प्लॉट बहुत महीन, जटिल, जुनून से भरा है तथा टाॅप क्लास टथ्ग् से लैस है जो दर्शकों को वास्तविकता जैसा अहसास कराएगा। आशा है कि नागिन के उत्साही और विविध और फेंटेसी-फिक्शन प्रेमी दर्शकों को चंद्रकांता पसंद आएगा और वे इस भव्य धारावाहिक का समर्थन करेंगे।’’

प्रमुख किरदार निभा रही मधुरिमा तुली का कहना है, ‘‘चंडीगढ़ आना हमेशा खूबसूरत अनुभव रहा है, इस शहर और यहां की जनता ने हमेशा मुझे असीम प्यार और समर्थन दिया है। चंद्रकांता जन्म से रॉयल्टी और कर्म से योद्धा है उसमें बेहद निर्दयी योद्धाओं को भी पछाड़ने, हराने और जंगली जानवरों को पराजित करने की क्षमता है। वह खूबसूरती और बुद्धि का सम्पूर्ण उदाहरण है तथा उसका निर्भीक दृष्टिकोण और घमंड का अभाव उसे बाकी सभी महिलाओं से अलग करता है। चंद्रकांता का ध्यान वीरेंद्र के लिए उसके प्रेम की तरह ही महान है। उम्मीद है कि मेरा यह सफर भी अच्छा रहेगा और मैं दर्शकों की आकांक्षाओं पर खरी उतरूंगी।’’

अभिनेता विशाल आदित्य सिंह उर्फ वीरेंद्र ने कहा, ‘‘चंडीगढ़ अपनी मेहमाननवाजी के लिए जाना जाता है और जब भी मैंने इस शहर की यात्रा की तो यहां की जनता ने मेरा खुले दिल से स्वागत किया है। वीरेंद्र खूंखार और महत्वाकांक्षी है, वह शक्तिशाली योद्धा है जो अपनी राह में आने वाले किसी से भी टकराने के लिए तैयार है। महिलाओं के लिए आकर्षक राजकुमार वीरेंद्र खुद चंद्रकांता की खूबसूरती, बुद्धि और बहादुरी पर मोहित हो जाएगा। वह आज्ञाकारी है और वह अपनी माँ के प्रति निष्ठा और चंद्रकांता के प्रेम के जुनुून के बीच फंस जाएगा। इस क्रांतिकारी धारावाहिक का हिस्सा बनना तथा मनोरंजन जगत की दो हस्तियों बालाजी टेलीफिल्म्स और कलर्स के साथ काम करना मेरे लिए सम्मान की बात है। चंडीगढ़ की मेरे दिल में खास जगह है और मुझे उम्मीद है कि यहां चंद्रकांता के प्रोमोशन के दौरान स्वादिष्ट व्यंजन खाने का अवसर मिलेगा।’’

मधुरिमा तुली, विशाल आदित्य सिंह, उर्वशी ढोलकिया और शाद रंधावा के साथ चंद्रकांता में अनेक कलाकार हैं जिनमें रानी रत्नप्रभा यानी चंद्रकांता को जन्म देने वाली माँ के रूप में शिल्पा सखलानी, राजा जय सिंह उर्फ चंद्रकांता के जन्मदाता पिता के रूप में संदीप रंजोरा विशाका यानी चंद्रकांता की चाची के रूप में प्रेरणा वानवरी, डजिन यानी चंद्रकांता के बेस्ट फ्रेंड के रूप में निर्मल सोनी, रूचि यानी चंद्रकांता की एडॉप्टिव अयार माँ के रूप में श्रुति गोलप, भीमा यानी चंद्रकांता के एडॉप्टिव अयार पिता के रूप में सैयद मोहम्मद इकबाल, चंपा यानी वीरेंद्र के जिगरी दोस्त के रूप में पूर्वी मूंदड़ा, क्रूर सिंह यानी शिवदत्त के विश्वस्त के रूप में अमित सिंह तथा कई अन्य शामिल हैं।

चंद्रकांता का प्रीमियर वीकएंड तिलिस्मी खंजर के लिए नौगढ़ की महारानी इरावती और विजयगढ़ की महारानी रत्नप्रभा के बीच महायुद्ध का साक्षी बनेगा। घायल होने से पहले महारानी रत्नप्रभा अपनी नवजात बेटी चंद्रकांता को जादुई डॉल्फिन में डाल कर सुरक्षित कर देती है और खंजर भगवान विष्णु को सौंप देती है। महारानी इरावती विजयगढ़ पर कब्जा कर लेती है और भ्रष्ट शासक बन जाती है। कहानी 21 साल की छलांग लगाती है, चंद्रकांता अब अपने सौतेले अभिभावकों के साथ सूर्यगढ़ में रह रही है, वह अपनी विरासत और जादुई शक्तियों से अनजान है। उसका इरावती के बेटे राजकुमार वीरेंद्र से आमना-सामना होता है और उसकी साजिश नाकाम कर देती है तथा वह वापस अपने महल लौट जाता है। जादू और अनंत सम्मोहन की दुनिया में क्या वीरेंद्र और चंद्रकांता के रास्ते एक बार फिर टकराएंगे ?

तो चंद्रकांता के साथ रहस्यमयी सफर पर चलने के लिए तैयार हो जाइए

24 जून, 2017 से आरंभ, प्रत्येक शनिवार और रविवार रात 8ः00 बजे कलर्स पर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here