पूजा गोयल-

सुरक्षित जीवन के लिए सुरक्षित कारें होना बहुत जरूरी है ये कहना है सिटीज़नस आवेअरनेस ग्रुप के मैंबरों का। इस विषय में आज चंडीगड़ प्रेस क्ल्ब मे एक वर्कशाप का आयोजन किया गया जो कि सिटीज़नस आवेअरनेस ग्रुप और कंज्यूमर वाइस संस्था द्वारा करवाई गई। वर्कशाप मे कार सेफ्टी के मुद्दे को आम लोगों के जीवन को सुरक्षित करने और इस विषय मे लोगो को जागरूक करने के लिए बड़े ही बढ़िया तरीके से रखा गया। इस मौके पर आई. टी वाइस के स्लाहकार हेमंत उपाध्या  ने अपने विचार रखते  हुए कहा की, देश मे विश्व का छठा सबसे बड़ा कार बाजार है और एक साल मे 2.03 मिलियन कारों की बिक्री होती है और इसके साथ ही भारत मे सड़क दुर्घटनाओं की संख्या भी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। इस बारे मे वर्कशाप मे बताया गया की देश में हर रोज 400 मौतें सड़क दुर्घटना के चलते हो रही है और इसके पीछे सबसे बड़ा कारण लोगों द्वारा खरीदी जा रही कारों में सेफ्टी फीचर की कमी है,
ऐसे में यह कहा जा सकता है की लोग कार खरीदते समय कार के सेफ्टी फीचर पर ध्यान ही नही देते, जिसके चलते सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों में से 30 फीसदी मौतें, कारों मे सेफ्टी फीचर की कमी की वजह से हो रही है ।
सिटीज़नस आवेअरनेस ग्रुप के चेयरमेन सुरिंद्र वर्मा ने इस मौके पर कहा की, कार की खरीद करते समय लोगो को ये जरूर ध्यान में रखना चाहिए की कार में सेफ्टी फीचर कौन कौन से हैं , ना की इस बात को ज़्यादा तवज्जो देनी चाहिए की गाड़ी के लूकस कैसें है।  वर्मा ने कहा की कार डीलरों को भी कार बेचते समय ग्राहकों को इस बारे में पूरी जानकारी देनी चाहिए ।
साथ ही लोकल कार डीलर्स मुनीश बंसल और संदीप दीवान ने कार सेफ्टी फीचर्स के बारे में जानकारी दी। वही साथ ही ट्रैफिक पुलिस ने रोड सेफ्टी पर पोस्टर्स भी जारी किये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here