पूजा गोयल

कैंसर पीड़ित कीमो थेरपी के बाद अपने आप को बीमार या दुसरो से खुद को अलग न समझे, इसका बेड़ा उठाया है ‘द ऐल्प्स ब्यूटी ग्रुप’ की डायरेक्टर गुंजन गौर ने। बुधवार को एक होटल में प्रेस वार्ता के दौरान गुंजन ने बताया कि उनके द्वारा परमानेंट मेकअप आर्ट कैंसर पेशेंट्स के लिए खुब मददगार साबित हुई है। परमानेंट मेकअप की मदत से कैंसर पीड़तों के आईब्रो के बाल, गंजापन का दूर होना और बर्थ मार्क हटाने जैसे कई दिक्कतों से छुटकारा पाया जा सकता है। गुंजन ने बताया कि अब तक वो बहुत से कैंसर पीड़तों का इलाज कर चुकी है और चंडीगढ़ में भी जल्द ही इसका इलाज शुरू करेगी।

परमानेंट मेकअप का चलन अब इंडिया में भी:
गुंजन ने बताया कि उन्होंने ये आर्ट हांगकांग से सीखा। इंडिया में वे अकेली ही ऐसी शख्स है जो प्रोफेशनली इस कैरियर को आगे बढ़ा रही है। उन्होंने बताया कि परमानेंट मेकअप एक ऐसा आर्ट है जिस से आपको रोजाना रेडी होने की जरूरत नही। आप कुछ भी परमानेंट करवा सकते है। जैसे आइब्रो, काजल, लाइनर । ये आपकी सुंदरता को और बढ़ाता है।

राजीव गांधी एक्सीलेंस अवार्ड से सम्मानित:
पिछले 20 साल की मेहनत ने मिस गुंजन को कई अवार्ड से सम्मानित किया है जिसमे वुमन विद आउटस्टैंडिंग क्रिएटिविटी अवार्ड, राजीव गांधी एक्सीलेंस अवार्ड, द मोस्ट प्रेफररेड सैलून मैनेजमेंट ट्रेनर और अभी कुछ समय पहले हॉल ऑफ द फेम वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम हासिल किया है, जिसमे 2 घंटो में 345 मेकअप गुंजन व उनकी टीम द्वारा किया गया।

सेलिब्रिटी भी करते है सलाम:
गुंजन ने प्रेस वार्ता के दौरान कुछ सेलेब्रिटीज़ के साथ के किस्से सुनाये। जहा पहला किस्सा माधुरी दीक्षित से जुड़ा था। उन्होंने बताया कि माधुरी दीक्षित का जब वे मेकअप करने गयी तो माधुरी ने खुद गुंजन का स्वागत दरवाजा खोल कर किया और कहा मेकअप के बाद , गुंजन कर मेकअपकी तारीफ भी की। वही क्रिकेटर एम. एस धोनी के मेकअप के दोरान जब वे डर-डर कर धोनी पर मेकअप लगा रही थी। तब धोनी में उन्हें रिलैक्स किया और कहा कोई चक्कर नही आराम से मेकअप करो। वही रखी सावंत ने तो 1 घंटे के मेकअप को 4 घंटे का मेकअप बना दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here