Chandigarh 30 July (Pooja Goyal):

चण्डीगढ़। से. 29 स्थित साई मंदिर में गुरू पूर्णिमा के अवसर पर 27 जुलाई को साई बाबा की प्रतिमा का इलाहाबाद के त्रिवेणी घाट व गोदावरी नदी के जल से मंगल स्नान करवाया जाएगा। इलाहाबाद से विशेष रूप से लाये गये गंगा, यमुना और सरस्वती के जल से बाबा का जलाभिषेक होगा। इस बार साई बाबा की महासमाधि का शताब्दी वर्ष भी चल रहा है जिस कारण इस बार यह आयोजन खास बन गया है।
मंदिर कमेटी के प्रधान रमेश कालिया ने बताया कि बाबा का शताब्दी वर्ष चल रहा है। इस वर्ष के महत्व को देखते हुए मंदिर कमेटी ने इलाहाबाद से त्रिवेणी का जल विशेष रूप से लाया गया है। इसके अलावा बनारस व हरिद्वार से भी गंगाजल व नासिक से गोदावरी नदी का जल लाया गया है।
27 जुलाई को प्रात: पौने चार बजे मंदिर के कपाट खुलेंगे। सवा पांच बजे बाबा की कांकड़ आरती होगी। छह बजे त्रिवेणी के जल से पुरुष भक्तों द्वारा बाबा की प्रतिमा को मंगल स्नान करवाया जाएगा। सात बजे बाबा का अभिषेक होगा साढे सात बजे बाबा को भोग अर्पण किया जाएगा। आठ बजे महिला भक्तों द्वारा बाबा को पुष्पाजंलि भेंट की जाएगी। सवा आठ बजे साईं सचित्र का पाठ आरंभ होगा जो सायं छह बजे संपन्न होगा। दोपहर 12 बजे बाबा की आरती के तुरंत बाद 201 बाबाओं को सामूहिक भोज होगा व उन्हें दान दिया जाएगा।

साढ़ छह बजे सायं बाबा की धूप आरती के बाद भजन संध्या होगी। प्रसिद्ध भजन गायक पुनीत खुराना बाबा का गुणगान करेंगे। रात्रि साढ़े आठ बजे विशाल भंडारा आयोजित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here