सेक्टर 30 में काली माता मंदिर के सामने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर बड़ी संख्या में गणमान्य लोगों ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ दिया धरना-प्रदर्शन व नारेबाजी

चण्डीगढ़। श्री कृष्ण भक्ति आश्रम मंडल, सेक्टर 30 के अध्यक्ष राकेश पाल मौदगिल एवं शशिशंकर तिवारी, प्रदेश महामंत्री चण्डीगढ़ कॉंग्रेस कमेटी की अगुआई  में सेक्टर 30 काली माता मन्दिर के सामने नगर मे आए दिन हो रही मंदिरों मे चोरी व अब तक चोरों को न पकड़ पाने  के मुद्दों को लेकर पुलिस-प्रशासन के खिलाफ एक विशाल रोष प्रदर्शन किया गया। इस विरोध-प्रदर्शन में शहर के गणमान्य लोग दलगत राजनीती से ऊपर उठ कर  शामिल हुए। इस धरना प्रदर्शन में मुख्य रुप से उपस्थित लोगों में सरदार सतेन्द्र सिंह, गुरप्रीत सिंह गापी ,सरपंच गुरप्रीत सिंह हैप्पी, यादविंदर मेहता, नरेंद्र पाण्डे, धर्मवीर सिसोदिया, डॉक्टर प्रेम कुमार, पंडित वीरेंद्र मिश्र, पंडित कैलाश चंद भारद्वाज, नरेश अरोड़ा, सुनील, पप्पू शुक्ला, स्वीटी बजाज, महेंद्र दुबे, राजेश चौधरी, रमेश शर्मा, सतिंदर राय, राजीव पाण्डे, हरिशंकर मिश्रा, सरोज झा, पार्षद राजेश गुप्ता, संजय चौबे, पंडित रमेश कुमार, छोटक मिश्रा, गिरिवर शर्मा, डीके पाण्डे, मंगला देवी, महाकाली मंदिर के मुख्य पुजारी श्रीचंद कौशिक, शकुन्तला देवी  इत्यादि काफी संख्या मे महिलाओं एवं पुरुषों ने भाग लिया। इसके अलावा चंडीगढ़ के लगभग सभी मंदिरों के प्रधान एवम महामंत्री भी इस मौके पर उपस्थित हुए।
इस मौके पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए राकेश पाल मौदगिल ने कहा की वर्तमान समय मे चंडीगढ़ में असमाजिक तत्वों का बोलबाला है। आज के समय मे ना तो घर मे बहन बेटियाँ सुरक्षित है और न मन्दिर मे भगवान। आए दिन स्नेचिंग हो रही है। पहले स्नेचिंग रोड पर होती थी। जिस कारण बहन बेटियाँ ने आभूषण पहन कर निकलना बंद कर दिया। अब तो घरों में घुस कर स्नैचिंग होने लगी है। और तो और अपराधियों के हौंसले इतने बुलंद हो गए कि अब तो एक-एक करके मंदिरों को भी लूटने से भी पीछे नही हट रहे है और पुलिस प्रशासन अपराधियों को पकडऩे मे नाकाम साबित हो रहा है ।
इस मौके पर शशि शंकर तिवारी ने कहा की पुलिस प्रशासन तंत्र बिल्कुल हरेक मोर्चे पर फेल हो गया है। चंडीगढ़ के अंदर मे हिंदू धर्म के ऊपर लगातार प्रहार हो रहा है  और अफ़सर ए.सी में बैठकर ठंडी हवा का लुत्फ ले रहे है और यहाँ मंदिरों को लूटा जा रहा है। चंडीगढ़ पुलिस अधिकारियों को इस बात की कोई भी चिंता नही है।
तिवारी ने चंडीगढ़ के प्रशासक बी.पी सिंह बदनौर से मांग की कि चंडीगढ़ में कानून व्यवस्था पूरी तरह पेल हो चुकी है। उन्होंने प्रशासक महोदय से जल्द से जल्द इन सारे मामलों को जेैसे चोरी, डकैती, स्नेचिंग आदि संगीन मामलों को हल करने की गुहार लगाई। इस धरने प्रदर्शन में आए हुए समस्त गणमान्य लोगों ने मंदिरों मे हुए चोरियों के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और अपराधियों को पकडऩे कि मांग की।
शशिशंकर तिवारी और राकेशपाल मोदगिल ने कहा कि यदि जल्द से जल्द अपराधियों की धरपकड़ नहीं की जाती है तो अगला धरना प्रदर्शन पुलिस मुख्यालय पर किया जाएगा और पुलिस अधिकारियों का घेराव किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here